Main Bhee Chahta Hun Ki Un Par Ghazlein Likhu

मैं भी चाहता हूँ की हुस्न पे ग़ज़लें लिखूँ
मैं भी चाहता हूँ की इश्क के नगमें गाऊं
अपने ख्वाबों में में उतारूँ एक हसीं पैकर
सुखन को अपने मरमरी लफ्जों से सजाऊँ ।

लेकिन भूख के मारे, ज़र्द बेबस चेहरों पे
निगाह टिकती है तो जोश काफूर हो जाता है
हर तरफ हकीकत में क्या तसव्वुर में
फकत रोटी का है सवाल उभर कर आता है ।

ख़्याल आता है जेहन में उन दरवाजों का
शर्म से जिनमें छिपे हैं जवान बदन कितने
जिनके तन को ढके हैं हाथ भर की कतरन
जिनके सीने में दफन हैं , अरमान कितने

जिनकी डोली नहीं उठी इस खातिर क्योंकि
उनके माँ-बाप ने शराफत की कमाई है
चूल्हा एक बार ही जला हो घर में लेकिन
मेहनत की खायी है , मेहनत की खिलाई है ।

नज़र में घुमती है शक्ल उन मासूमों की
ज़िन्दगी जिनकी अँधेरा , निगाह समंदर है ,
वीरान साँसे , पीप से भरी -धंसी आँखे
फाकों का पेट में चलता हुआ खंज़र है ।

माँ की छाती से चिपकने की उम्र है जिनकी
हाथ फैलाये वाही राहों पे नज़र आते हैं ।
शोभित जिन हाथों में होनी थी कलमें
हाथ वही बोझ उठाते नज़र आते हैं ॥

राह में घूमते बेरोजगार नोजवानों को
देखता हूँ तो कलेजा मुह चीख उठता है
जिन्द्के दम से कल रोशन जहाँ होना था
उन्हीं के सामने काला धुआं सा उठता है ।

फ़िर कहो किस तरह हुस्न के नगमें गाऊं
फ़िर कहो किस तरह इश्क ग़ज़लें लिखूं
फ़िर कहो किस तरह अपने सुखन में
मरमरी लफ्जों के वास्ते जगह रखूं ॥

आज संसार में गम एक नहीं हजारों हैं
आदमी हर दुःख पे तो आंसू नहीं बहा सकता ।
लेकिन सच है की भूखे होंठ हँसेंगे सिर्फ़ रोटी से
मीठे अल्फाजों से कोई मन बहला नही सकता ।

More Shayari in Dard Bhari Shayari
11 Nov 2008 No Comment 3

Get Shayari In Email Daily

 Amazing & Funny Photos

GoPlate Concept – Eating While Standing How To End A Relationship In Better Way Kyu Be Tujhe Sunta Nahi Kya Oh God, I Cant Do That This Is What We Are Doing With Nature Turtle Water Melon Art Just Married Can You Read This In First Attempt Teri Meri Prem Kahani Hai Mushkil Free diving With Tuna Fish Photograph By Kurt Arrigo

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Funny Veg Jokes

Vese To Santa Akalmand Hai
Santa Ko Cinema Hall Ke Bahar Ek Bikhari Mila. Bhikhari: "Allah Ke Naam Par Kuch De Do" Santa 100 Ka Note Dikhate

Santa Aur Bechara Doctor
Santa Doctor Ke Pass Gaya. Doctor: "Ab Tumhari Tabiyat Kaisi Hai?" Santa: "Pehle Se Jyada Kharab Hai" Doctor: "Da

Mehboob Ki Yaad Mein Jagte Hain Tanha Raaton Ko
Ustad Fursat Fate Haal Khan Sahab Ne Apni Mehbooba Ki Yaad Mein Ek Sher Arz Kara Hai, Gaur Farmayiyega Zara Wo Jo Meh

Ultimate Joke – It Started Like This…
One Morning At A Doctor's Clinic A Patient Arrives Complaining Of Serious Back Pain. The Doctor Examines Him And Asks

Mother Tongue Wale Box Mein Kya Likhna Hai?
Santa Apne Bete Pappu Ka Admission Form Bharne Mein Madad Kar Raha Tha, To Pappu Ne Puchha. Pappu: "Papa, Ye Mother T

Join Us on Facebook